ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा विकसित कोविशील्ड वैक्सीन का मैसूर के हॉस्पिटल में शुरू हुआ क्

युद्धन्मन इलेक्ट्रॉनिक्स Covishield Vaccine Trial : मैसूर के हॉस्पिटल में शुरू हुआ कोविड-19 वक

Trial on vaccine of covid-19 started in Mysore hospital ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा विकसित कोविशील्ड वैक्सीन का मैसूर के हॉस्पिटल में शुरू हुआ क्लिनिकल ट्रायल।

Covishield Vaccine Trial: ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय (university of oxford) द्वारा विकसित कोविशील्ड वैक्सीन (Covishield Vaccine) का नैदानिक परीक्षण मैसूर के जेएसएस अस्पताल में शुरू कर दिया गया है। एक अधिकारी ने रविवार को इस बात की जानकारी दी है। उन्होंने बतायायुद्धन्मन इलेक्ट्रॉनिक्स, “शनिवार को हमारे अस्पताल में कोविशील्ड के नैदानिक परीक्षण (covishield vaccine trial in mysore) की शुरूआत की गई। यह कर्नाटक का एकमात्र ऐसा संस्थान हैयुद्धन्मन इलेक्ट्रॉनिक्स, जिसे इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) द्वारा चुना गया है। अस्पताल में कोरोनोवायरस के एक रोगी पर वैक्सीन के प्रभाव की जांच की जाएगी।” Also Read - भारत में ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की कोविड वैक्सीन का ट्रायल फिर से शुरूयुद्धन्मन इलेक्ट्रॉनिक्स, DCGI ने दी अनुमति

देश के अन्य 16 संस्थानों में इसी तरह के परीक्षण चल रहे हैं। इस अस्पताल का नाम जगदगुरु श्री शिवरात्रि (जेएएस) हैयुद्धन्मन इलेक्ट्रॉनिक्स, गणित सफारी इले जो नंजनगुड़ में काबिनी नदी के तट पर स्थित है और इसे सुत्तुर गांव में सुत्तुर मठ द्वारा संचालित किया जाता है। अस्पताल में 1युद्धन्मन इलेक्ट्रॉनिक्स,800 बिस्तरों की सुविधा है। Also Read - स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, कोविड रोगियों के लिए मेडिकल ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं

तीन चरणों में होगा क्लिनिकल ट्रायल

एक बार जब तीन चरणों में ट्रायल की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी, तो इसे सत्पायन के लिए प्रस्तुत किया जाएगा। इसके बाद पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा ब्रिटिश बहुराष्ट्रीय दवा और बायोफार्मास्युटिकल कंपनी एस्ट्राजेनेका के साथ साझेदारी में वैक्सीन उम्मीदवार का उत्पादन किया जाएगा,युद्धन्मन इलेक्ट्रॉनिक्स भारत में जिसका संचालन केंद्र बेंगलुरु में है। श्री शिवरात्रि राजेंद्र स्वामी के 105वीं जयंती महोत्सव पर ट्रायल शुरू किया गया। Also Read - Covid-19 Live Updates: भारत में कोरोना के मरीजों की संख्या हुई 49,30,236, अब तक 80,776 लोगों की मौत

अमेरिका की बायोटेक कंपनी मॉडर्ना जापान को कोरोना वैक्सीन की 4 करोड़ खुराक की करेगी आपूर्ति

Published : August 30, 2020 9:56 pm Read Disclaimer Comments - Join the Discussion कोरोना के मरीजों के इलाज में जगी नई उम्मीद, पॉजिटिव असर दिखा रही है खून को पतला करने वाली यह दवाकोरोना के मरीजों के इलाज में जगी नई उम्मीद, पॉजिटिव असर दिखा रही है खून को पतला करने वाली यह दवा कोरोना के मरीजों के इलाज में जगी नई उम्मीद, पॉजिटिव असर दिखा रही है खून को पतला करने वाली यह दवा अमेरिका की बायोटेक कंपनी मॉडर्ना जापान को कोरोना वैक्सीन की 4 करोड़ खुराक की करेगी आपूर्तिअमेरिका की बायोटेक कंपनी मॉडर्ना जापान को कोरोना वैक्सीन की 4 करोड़ खुराक की करेगी आपूर्ति अमेरिका की बायोटेक कंपनी मॉडर्ना जापान को कोरोना वैक्सीन की 4 करोड़ खुराक की करेगी आपूर्ति ,,
上一篇:युद्धन्मन इलेक्ट्रॉनिक्स Coronavirus Treatment in Hindi: कोरोना मरीजों के इलाज में जगी नई उम्मी    下一篇:युद्धन्मन इलेक्ट्रॉनिक्स Covid-19 vaccine moderna update: अमेरिका की कंपनी मॉडर्ना जापान को कोर